खौफनाक सच लड़की मौत के बाद भी करती रही नौकरी और माँ बाप से बातें

    0
    3

    खौफनाक दुनिया के रहस्य भरे सच सामने आते है तो शरीर में सनसनी मच जाती है| ऐसी ही एक खौफनाक सच्चाई  जिसमें एक लडकी मरने के बाद भी सात समन्दर पार अमेरिका में नौकरी करती रही। और यही नहीं वो रोजाना अपने मां बाप से बात भी करती रही।

    उसकी मां जब भी उससे पुछती , तो वह हर बार यही कहती की मैं ठीक हुॅ आप लोग ध्यान रखना। अब आप सोच रहे होगें की मरी हुयी लडकी भला कैसे नौकरी कर सकती है |और कैसे अपने मां बाप से बात कर सकती है तो आइये जानते है इस रहस्य से भरे खौफनाक दास्तान की सच्ची कहानी।

    रोजाना करती थी मां बाप से बातें


    मॉ बाप बिलकुल इस बात से बेखबर थे|  कि रोजाना उनसे उनकी तबियत का हालचाल पुछने वाली उनकी लाडली बेटी आकांक्षा अब इस दुनिया में नहीं है। वो कई महीने पहले ही मर चुकी है। और जिस बेटी के आने का वो कई महीनों से इन्तजार कर रहे है अब वो कभी भी उनके पास नहीं आ पायेगी।

    आकांक्षा अपने मां बाप से बात हमेशा चैंटिग के जरिये ही करती थी| जब भी उसके मां बाप उससे फोन पर बात करने के लिये कहते वह मना कर देती। उसका कहना था कि उसके पास टाईम नहीं है उसे वहां काम करना पडता है। और साथ ही वह उन्हें आश्वासन दे देती की वह जल्द ही उनसे बात करेगी।

    सपने में आपकी मृत्यु का क्या है मतलब, जानिये सपनों के संकेत

    सच्चाई आयी सामने


    लेकिन कई दिनों तक बात नहीं करने से आकांक्षा के मां बाप को कोई अनहोनी होने का एहसास होने लगा था। इसलिये उन्होनें पुलिस थाने में सारा मामला बताया। जब पुलिस ने इस मामले की तहकीकात की तो जो हकीकत सामने आयी, वह चौंकाने वाली थी। दरअसल जिस फोन से उनकी बेटी अमेरिका से बात कर रही थी | उसकी लोकेशन भोपाल बतायी जा रही थी।जब वहां जाकर तलाशी ली गयी तो इस रहस्य की सारी कहानी परत दर परत खुलती गयी।

    भोपाल के उस मकान में आकांक्षा की लाश मिली, जो एक सफेद संगमरमर के चबुतरे में दबा दी गयी थी।

    इतनी खुबसूरत है यह लड़की की लोग समझ बैठते है इसे डॉल

    फेसबुक से पनपा प्यार


    पश्चिम बंगाल के बांकुरा की रहने वाली आकांक्षा एक पढी लिखी लडकी थी लेकिन वह एक ऐसे लडके के प्यार में फंस गयी थी, जो दिखने में बेहद शरीफ था उस लडके का नाम था उदयन दास। उदयन दास ने फेसबुक के जरिये आंकाक्षा को अपने जाल में फंसाया था। आकांक्षा ने अपनी एमएससी की पढाई जयपुर से की थी उसके बाद वह दिल्ली रहने लगी।

    फेसबुक के जरिये 2007 में उसकी मुलाकात उदयन दास से हुयी। उदयन ने उसे बताया था, कि वह अमेरिका में रहता है और घरवालों से मिलने के लिये वह भोपाल आता रहता है। आकांक्षा उसके प्यार में पड गयी और दोनों रिलेशनशिप में बंध गये।

    पुलिस की पडताल में आया सच सामने

    आकांक्षा के जब उदयन की हकीकत का अंदाजा हुआ तो उन दोनों में बहुत अनबन हुयी | और उदयन ने अपनी गर्लफ्रेंड का गला दबाकर हत्या कर दी। और उसे घर में ही एक चबुतरा बनाकर दफना दिया। जब पुलिस ने आकर देखा और उसे खुदवाया तो उसमें से आंकाक्षा की लाश मिली। लेकिन यह खौफनाक कहानी यहीं तक सीमित नहीं है | जब पुलिस वालों ने उससे गहन पुछताछ की तो सच सामने आया उसने ना सिर्फ पुलिस को बल्कि पूरी दुनिया को चौंका दिया।

    उदयन दास से जब उसके घर वालों के बारे में पुछा तो वह संतोषजनक उत्तर नहीं दे सका | जब पुलिस ने कडाई बरती तब पता चला की वह अपने मां बाप को भी मारकर वहां दफना चुका है।

    कम उम्र में कह गये ये कलाकार दुनिया को अलविदा, 6 नंबर है चौंकाने वाला

    कोई भी सजा छोटी


    अपने मां बाप को भी उदयन ने प्रोपर्टी हथियाने के लिये मार दिया था। उसने मां की गला घोटकर और अपने पिता की चाय में नशे की गोलियां पिलाकर हत्या कर दी थी। इसके बाद उसने उनके शव भी अपने मकान में रात को खड्डा खुदवाकर गाड दिये थे। अपने मां बाप और अपनी प्रेमिका की हत्या करने के बाद भी वह अपने घर में अय्याशी का जीवन जी रहा था|  रोजाना कॉलगर्ल लाकर वह अपनी रातें रंगीन कर रहा था|

    इस बात से बिलकुल बेखबर की उसने कितना घिनौना अपराध किया है. जिसकी लिये कोई भी सजा छोटी पड जायेगी। लेकिन बुराई का अंत हमेशा होता है और आज जेल में वह अपने गुनाहों की सजा काट रहा है।

    NO COMMENTS

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here