तेरी दुनिया का ये दस्तूर भी अजीब है ऐ खुदा

0
46

तेरी दुनिया का ये दस्तूर भी

अजीब है ऐ खुदा,,

मोहब्बत भी उनको मिलती है ,,

जिन्हें करनी नही आती।।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here